Ad

PF Se Paise Kaise Nikale



EPFO

 PF Withdrawal: अगर पैसों की जरूरत आ पड़ी हैतो ऐसे निकाल सकते हैं पीएफ से फंडजानिए क्या है तरीका :-

          आपको बता दें कि, पी.एफ का पैसा निकालने के लिए आपको ऑनलाइन फॉर्म -19 को भरना होगा और पी.एफ के पेंशन का पैसा निकालने के लिए आपको ऑनलाइन फॉर्म – 10C को भरना होगा जिसके लिए आपको पोर्टल में, लॉगिन करना होगा औऱ पोर्टल में, लॉगिन करने के लिए आपके पास आपका UAN नबंर औऱ पासवर्ड होना चाहिए। ईपीएफ से पैसा ऑनलाइन निकालने के लिए, आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आपका UAN एक्टिव है और यह आपके KYC (आधार, PAN और बैंक अकाउंट) से लिंक है। यदि आप इस शर्त को पूरा करते हैं, तो आप अपने EPF अकाउंट से पैसे निकलने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं।

EPF अकाउंट से पैसे निकालने के लिए योग्यता शर्तें  

 1. ईपीएफ से कुल राशि सिर्फ रिटायर्मेंट के बाद ही निकाली जा सकती है, EPFO रिटायर्मेंट तभी मानता है जब व्यक्ति की उम्र 55 वर्ष से ज़्यादा हो जाए।
2. मेडिकल इमरजेंसी, घर खरीदना हो या बनवाना हो, या उच्च शिक्षा के लिए पैसों की ज़रूरत पड़ने पर EPF अकाउंट से कुछ राशि निकालने की अनुमति मिलती है।
3. EPFO रिटायर्मेंट से 1 वर्ष पहले 90% राशि निकालने की अनुमति देता है
4. EPF खाते से पूरी राशि निकाली जा सकती है अगर कर्मचारी रिटायर्मेंट से पहले बेरोज़गार हो जाता है |
5. नए नियम के मुताबिक, बेरोज़गारी के 1 महीने के बाद केवल 75% फण्ड को निकाला जा सकता है। बकाया राशि को रोज़गार मिलने के बाद नए EPF खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।
6. कर्मचारियों को अपनी EPF राशि निकालने के लिए अपने नियोक्ता/ कंपनी से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं होती है। UAN और आधार को अपने EPF अकाउंट से जोड़कर, आप ऑनलाइन अनुमति प्राप्त कर सकते हैं |
7. ऑनलाइन क्लेम करते समय, आपके पास होना चाहिए-
A. एक एक्टिव UAN नंबर
B. बैंक अकाउंट की जानकारी, जो UAN के साथ लिंक हो |
C. पैन और आधार संबंधी जानकारी, जो EPF अकाउंट से जुड़े हों

EPF Withdrawal: ज़रूरी दस्तावेज
अन्य महत्वपूर्ण बिंदु:

  1. अगर साल की अवधि में कोई ब्रेक होता है तो ईपीएफ राशि पर टैक्स लगेगा। इस मामले मेंपूरी राशि पर टैक्स लगाया जाएगा |
  1. यदि कर्मचारियों की कुल आय पर टैक्स लागू नहीं होता हैतो उन्हें डिक्लेरेशन के रूप में फॉर्म 15H/15G भरना होगा |
  2. यदि किसी कर्मचारी ने इनकम टैक्स एक्ट 80 सी के अनुसार ईपीएफ पर पिछले वर्षों के ईपीएफ योगदान पर छूट का क्लेम किया हैतो वे कर्मचारी के योगदाननियोक्ता/ कंपनी के योगदान और प्रत्येक डिपॉज़िट पर ब्याज पर टैक्स का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी होंगे। हालांकिअगर उन्होंने पिछले वर्ष में इसका क्लेम नहीं कियातो कर्मचारी के योगदान वाले हिस्से पर टैक्स नहीं लगेगा।
  3. कर्मचारी को पैसे निकालने पर कितना टैक्स देना होगाये उसकी आय और पैसा किस वर्ष में निकाला जा रहा हैइस पर निर्भर करता है।

1.    कंपोजिट क्लेम फॉर्म |
2.  दो रेवेन्यू स्टाम्प |
3.बैंक अकाउंट स्टेटमेंट (पीएफ धारक के जीवित होने पर बैंक अकाउंट केवल उसी के नाम पर होना चाहिए) |
4.  पहचान पत्र |
5.  पता प्रमाण पत्र |
6.  एक कैंसल ब्लैंक चेक जिसमें अकाउंट नंबर और IFSC कोड हो |
7.  व्यक्तिगत जानकारी जैसे किपिता का नामजन्मतिथि आदि पहचान पत्र की जानकारी से मेल खाती हो ,अगर कर्मचारी नौकरी के पाँच वर्ष पूरे होने से पहले पीएफ राशि निकालता है तो उसे ITR फॉर्म और भी लगाना होगा ।

 पीएफ खाते से ऑनलाइन पैसा निकलने के लिया निम्नलिखित
 ऑनलाइन स्टेप का पालन करना होगा

 स्टेप 1:   पीएफ से एडवांस पैसा निकालने के लिए आपको  www.epfindia.gov.in  वेबसाइट के होम पेज पर ऑनलाइन एडवांस क्लेम पर क्लिक करना होगा. आपको इसके लिए :-https://www.epfindia.gov.in/site_en/index.php/ 

या https://unifiedportalmem.epfindia.gov.in/memberinterface पर लॉगिन करने की जरूरत है |

स्टेप 2:  पासवर्डUAN और कैप्चा कोड के साथ अपने अकाउंट में साइन इन करें।
स्टेप 3:  Online Services टैब से Claim (Form-19, 31, 10C & 10Dको सेलेक्ट करें।
स्टेप 4:  View एक नया वेबपेज खुलेगा जहां आपको UAN से जुड़ा सही बैंक    अकाउंट नंबर (इसके बाद अपने बैंक खाते के अंतिम अंक डालकर इसे वैरिफाई कर लें.देना होगा।
स्टेप 5:  Verify पर क्लिक करें।
स्टेप 6:  बैंक अकाउंट डिटेल्स को वेरिफाई करने के बाद आपको EPFO द्वारा दिए गए नियमों और शर्तों की पुष्टि करनी होगी।
स्टेप 7:   Proceed For Online Claim को सेलेक्ट करें।
स्टेप 8:   यहांआपको ड्रॉप-डाउन लिस्ट से विड्रॉल के कारणों का चयन करें।
स्टेप 9:   इसके बाद आपको अपना एड्रेस देना होगा, इसके बाद आपको अमाउंट डालना होगा। साथ ही जरूरी डॉक्यूमेंट्स अपलोड (अपने बैंक अकाउंट की चेक / पासबुक की स्कैन कॉपी अपलोड करनी होगी, )करने होंगे।
स्टेप 10:   नियम और शर्तों पर क्लिक करें।
स्टेप 11:  Get Aadhaar OTP पर क्लिक करें।
स्टेप 12:  आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा। फिर आपको ओटीपी डालना होगा।

स्टेप 13:  ओटीपी दर्ज करने के बाद, EPF विड्रॉ के लिए ऑनलाइन क्लेम सबमिट किया जाएगा।

ध्यान रहे कि- EPF को ऑनलाइन निकालने के लिए, UAN को एक्टिव करना होगा और इसे केवाईसी यानी आधार, पैन और बैंक डिटेल्स के जोड़ना होगा। पैसा विड्रॉ करने के बाद करीब 03 से 07 दिन में आपका पैसा आपके अकाउंट में आ जाता है। अगर किसी कारण एप्लीकेशन रिजेक्ट हो जाती है तो उसका कारण जानकर और उसे ठीक आप दोबारा अप्लाई कर सकते हैं। * मेडिकल इमरजेंसी में एक घंटे के अंदर पीएफ क्लेम का पैसा भेज दिया जाता है |
# इसके बाद आप अपने खाते का बैलेंस पता कर सकते हैं. आप चाहें तो एक मिस्ड कॉल से भी अपना PF बैलेंस जान सकते हैं. इसके लिए आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से @9966044425 पर मिस्ड कॉल करनी होगी. आपको SMS से बैलेंस पता चल जाएगा |

------------------------------------------------------------------------------------------------------

Pf की स्क्रीनशॉट

 







संबंधित प्रश्न (FAQs)


प्रश्न 1 पीएफ ट्रांसफर होने में कितना समय लगता है?

उत्तर: ऑनलाइन आवेदन करने पर @3 से @7 दिन (Working Days) के भीतर पैसा मिल जाता है। मोबाइल पर UmangAPP के माध्यम से आवेदन पर भी इतने ही दिन लगते हैं। ऑफलाइन यानी कि पीएफ ऑफिस जाकर क्लेम करने पर भी @15 से @20 दिन में पैसा मिल जाता है।

प्रश्न 2 बिना रिजाइन के पीएफ कैसे निकाले?

उत्तर: बिना Date Of Exit दर्ज हुए आपका ​पीएफ नहीं निकल सकता। जब आप सामान्य तरीके से नौकरी छोड़ते हैं तो कंपनी का HR विभाग, आपको पीएफ अकाउंट में Date of Exit (DOE) डाल देता है, जिससे पीएफ निकालना आसान हो जाता है।

प्रश्न 3 ईपीएफ विड्रॉल संबंधी इनक्वायरी नंबर क्या है?

उत्तर: EPFO टोल-फ्री कस्टमर केयर नंबर – @ Calling Number 1800 118 005 / Miss Call Number @9966044425 / @SMS EPFO<UAN> <LAN> to 7738299899 # Link Help # FAQs Regarding ONLINE CLAIM SETTLEMENT PDF
प्रश्न 4 क्या मैं EPF पोर्टल में लॉग इन किए बिना EPF अमाउंट निकालने के लिए आवेदन कर सकता हूँ?
उत्तर: अगर आप ऑनलाइन आवेदन नहीं करना चाहते हैं तो आप EPF अमाउंट निकालने के लिए ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।अगर आप ऑनलाइन माध्यम का प्रयोग करना चाहते हैं तो आपको UAN और पासवर्ड का प्रयोग कर EPF पोर्टल में लॉग-इन करना होगा।

प्रश्न 5 होम लोन भुगतान के लिए EPF निकालने की क्या शर्ते हैं?

उत्तर: सबसे पहली शर्त ये है कि आपने नौकरी में 3 साल पूरे कर लिए हों। होम लोन भुगतान के लिए EPF अकाउंट का @90% तक निकाल सकते हैं।

प्रश्न 6 अगर मेरा UAN मेरे वर्तमान PF अकाउंट से जुड़ा है और मुझे अपनी पिछली कंपनी के PF अकाउंट से पैसा निकालना है तो उसके लिए क्या करना होगा?

उत्तर: अगर आपका UAN आपके वर्तमान PF अकाउंट से लिंक है तो आप अपनी पिछली कंपनी के PF अकाउंट से पैसा नहीं निकाल सकते हैं। इसके लिए आपको पुराने PF अकाउंट से अमाउंट को वर्तमान PF अकाउंट में ट्रान्सफर करना होगा। ट्रांसफर करने के लिए EPF मेंबर ई-सेवा पोर्टल में लॉग-इन करें और “Online Services” में “One Member-One EPF Account (Transfer Request)” को चुनें। हालाँकि, अगर आप पिछले दो महीने से बेरोजगार हैं तो आप फॉर्म 19 भरकर पूरा EPF अमाउंट निकालने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

प्रश्न 7 क्या EPF राशि निकालने के लिए पैन अनिवार्य है?

उत्तर: हां, आप अपना पैन कार्ड उपलब्ध कराए बिना ईपीएफ खाते से निकासी कर सकते हैं । हालाँकि, जब आप अपना पैन कार्ड प्रस्तुत करते हैं, तो निकाली गई राशि पर लागू टीडीएस @10% है |

प्रश्न 8 ईपीएफ राशि निकालने पर कब और कितना टैक्स लागू होता है?
उत्तर: @ 5 साल की सेवा से पहले निकालने पर ईपीएफ बैलेंस पर @10% की दर से टीडीएस काटा जाता है और राशि @50,000 रुपये से अधिक है। निकासी के समय अपने पैन का उल्लेख करना याद रखें। यदि पैन प्रदान नहीं किया गया है, तो टीडीएस @30% की उच्चतम स्लैब दर पर काटा जाएगा।)

प्रश्न 9 ITR में EPF विड्रॉल कैसे दिखाएं?
उत्तर: ईपीएफ से निकाली जाने वाली राशि को कर्मचारी के लिए आय ही माना जाता है और इसका उल्लेख ‘Income from salary’ के तहत किया जाना चाहिए। यदि आपने अपने ईपीएफ अकाउंट से पैसा निकाला है, तो आप पोर्टल पर ‘धारा 10(12) मान्यता प्राप्त भविष्य निधि’ का चयन करके आईटीआर दाखिल करते समय इसकी रिपोर्ट कर सकते हैं।

प्रश्न 10 नियोक्ता/ कंपनी की मंज़ूरी के बिना ईपीएफ कैसे निकालें?

उत्तर: यदि आप ईपीएफ राशि निकालने के लिए ऑनलाइन आवेदन करते हैं, तो आपको वेरिफिकेशन के लिए अपने नियोक्ता/ कंपनी के वेरिफिकेशन की आवश्यकता नहीं है। इसके अतिरिक्त, ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपका पैन और आधार आपके UAN अकाउंट से जुड़ा होना चाहिए।

प्रश्न 11 क्या ईपीएफ नौकरी करते हुए भी निकाला जा सकता है?

उत्तर: हां, आप काम के दौरान भी ईपीएफ निकाल सकते हैं। हालांकि, इसके लिए कुछ शर्तों को पूरा करना होगा। रिटायरमेंट से पहले कोई अपनी ईपीएफ राशि तभी निकाल सकता है जब-v उसे घर खरीदना/बनाना है |

1. स्वंम की या बच्चों की शादी |

2. कोई मेडिकल इमरजेंसी |

प्रश्न 12 कितनी बार ईपीएफ निकाला जा सकता है?

उत्तर: कोई भी कर्मचारी अपनी ईपीएफ राशि जब चाहे निकाल सकता है। हालाँकि, EPF खाते में कर्मचारी के योगदान के बराबर राशि या उसके मासिक वेतन का @6 गुना, जो भी कम हो उतनी राशि निकाली जा सकती है।

प्रश्न 13 मैं रिटायर्मेंट से पहले ऑनलाइन कितनी बार PF अकाउंट से पैसा निकाल सकता हूँ?
उत्तर: आप रिटायर्मेंट से पहले कई बार PF अकाउंट पैसे निकालने का आवेदन कर सकते हैं लेकिन उसके लिए कारण देना होगा। आप निम्नलिखित उद्देश्यों के लिए रिटायर्मेंट से पहले पैसा निकाल सकते हैं:-1. आप शादी के लिए पैसा निकाल सकते हैं लेकिन तीन बार से ज़्यादा नहीं |

2. आप अपने बच्चो के @10वीं के बाद की पढ़ाई के लिए @3 बार पैसे निकाल सकते हैं |

3.अगर आप कोई घर या ज़मीन खरीद रहे हैं या उसे उसे बना रहे हैं तो आप बस एक बार पैसा निकाल सकते हैं |

4.आप रिटायर्मेंट से पहले मेडिकल इमरजेंसी के लिए EPF अकाउंट से कितनी बार भी पैसा निकाल सकते हैं |

                # (EPFO का नियम समय समय में बदलाव होता रहता है 


Close Menu